What is NEFT, RTGS, IMPS and Digital Payment

Rate this post

Digital Payment :- आज हम एक Online युग में जी रहे हैं। आज लगभग सारी चीजें Online हो चुकीं हैं। चाहे आपको कहीं पैसा भेजना हो, कहीं Online Shoping करना हो या फिर किसी चीज का Payment करना हो, आपको इन सब कामों में अब Online Payment ही करना होगा।

Join Telegram Group Join Now
What is NEFT RTGS And IMPS ?
What is NEFT RTGS And IMPS ?

आजकल Banking का सारा काम आपके Mobile Phone में ही हो रहा है और वो भी घर बैठे, सिर्फ़ आपके Mobile Phone में Internet Connection और आपके Bank में Net Banking होना चाहिए ।

आज के इस Article से हम जानेंगे कि – Digital Payment से हमें क्या फायदा है ? , भारत में Online Fund Transfer किन – किन माध्यमों से कर सकते हैं ?, NEFT, RTGS और IMPS को क्यों शुरू किया गया ?, Fund Transfer Limit & Available Service, NEFT, RTGS & IMPS में कितना Charge लगता है ? तथा इसके साथ अनेक सारी जानकारियां साझा करेंगे जो आपके लिए लाभदायक होने वाले हैं।

What is Digital Payment and Benefits of Digital Payment-

भारत में जबसे Digital Payment की शुरुआत हुई है , तब से सभी लोगों के लिए बहुत ही सुविधा हुई है। इसमें एक Bank Account से दूसरे Bank Account में पैसे Transfer करने को बहुत ही आसान और तेज़ बना दिया है। अब हमें पैसे Transfer और Receive करने के लिए कई दिनों तक Waiting नहीं करना होता है।

Digitally Transferred के माध्यम से इस काम को चंद सेकेंडों में कर सकते हैं। अभी के समय में लगभग सारी Government Banks, Private Banks, Private Companies & Government Departments ने इस Digital Payment System को अपनाया है। Digitally Transferred बेहद आसान है, तेज़ है और Record रखने के लिए भी काम आता है।

भारत में Online Fund Transfer किन – किन माध्यमों से कर सकते हैं ?

Online Fund Transfer करने के माध्यम :-

  • NEFT
  • RTGS
  • IMPS 
  • Digital Wallet 
  • BHIM  UPI
  • Paytm 
  • Google Pay 
  • Phone Pay आदि 

Read More –

भारत में सबसे ज़्यादा उपयोग होने वाले माध्यम हैं –

  • National Electronic Fund Transfer (NEFT)
  • Real Time Gross Setalment (RTGS)
  • Imidiate MobilePayment Service (IMPS)

Note NEFT और RTGS को भारतीय रिज़र्व बैंक (Reserve Bank of India) (RBI) द्वारा लॉन्च (Launched) किया गया है । IMPS को National Payment Corporation of India (NPCI) द्वारा लॉन्च किया गया है । 

What is NEFT ?

NEFT का Full Form – National Electronic Fund Transfer ( राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक निधि अंतरण ) है। यह एक ऐसा Payment System है जिसके द्वारा एक Bank Account से दूसरे Bank Account में पैसे Transaction आसानी से कर सकते हैं। NEFT के द्वारा Fund Transfer उसी समय में नहीं होता है बल्कि हर आधे घंटे में NEFT के Fund Transfer Batch Release होते हैं । जिसमें जिन लोगों ने भी पिछले आधे घंटे में अपने Account से Fund Transfer किया है वो पैसे दूसरे Account तक पहुँचते हैं। आप जब भी NEFT से Transfer करते हैं तो उसके आधे घंटे बाद वो Transfer पूरा हो जाता है।

What is RTGS ?

RTGS का Full Form – Real Time Gross Setalment ( तत्काल सकल निपटान ) है। इसके द्वारा Fund Transfer करने से पैसा उसी समय यानि तुरन्त ट्रान्सफर हो जाता है । RTGS मुख्य रूप से बड़ी रकम वाले ट्रान्सफर के लिए प्रयोग किया जाता है । जिसके माध्यम से हम तुरंत किसी तक बड़ी रकम पहुंचा सकती हैं।

What is IMPS ?

IMPS का Full Form – Immediate Payment Service ( तत्काल भुगतान सेवा ) है। यह एक ऐसा Online Fund Transfer System है जिसे National Payments Corporation of India (NPCI) द्वारा Manage किया जाता है। इसके द्वारा Money Transfer करने से पैसा उसी समय ट्रान्सफर हो जाता है।

#DigitalIndia | @NPCI_IMPS enable users to send money in a fast and secure way. A rapid and real-time fund transfer technology. @NPCI_NPCI @GoI_MeitY #DigitalPayments #IMPS pic.twitter.com/DyiIy3VHGW

— Digital India (@_DigitalIndia) July 3, 2021

IMPS पूरे साल यानि 365 दिन 24*7 Available रहता है जबकि NEFT और RTGS ये सुविधा नहीं देते हैं।

NEFT, RTGS और IMPS को क्यों शुरू किया गया ?

NEFT, RTGS और IMPS को Bank Customer की काम में आसान हो सके इसी लिए शुरू किया गया है। इसके द्वारा Fund Transfer के लिए भेजने वाले के पास उसकी Bank Account की पूरी जानकारी होनी चाहिए जिसे Money Transfer करना है।

.@RBI कहता है..
डिजिटल भुगतान करें, सुरक्षित रहें!#BeAware #BeSecure#rbikehtahai #StayHomeStaySafehttps://t.co/mKPAIp5rA3 pic.twitter.com/3BXyuUDHzQ

— RBI Says (@RBIsays) May 1, 2021

इसमें Transactions करने के लिए Receivers /  Beneficiary’ का Details जैसे – Account Number, Beneficiary’s Name, IFSC Code & Branch Name इत्यादि चीजें ज़रूरी हैं।

Fund Transfer Limit & Available Service –

NEFT, RTGS & IMPS द्वारा कितना Minimum or Maximum Fund Transfer किया जा सकता है इसकी अलग-अलग सीमाएं निर्धारित किया गया है। इसीलिए Money Transfer करने से पहले इन तीनों की न्यूनतम और अधिकतम सीमा को अच्छी तरह से जान लेना चाहिए ताकि Transfer Amount के मुताबिक, आप सबसे Correct Options Choose कर सकें।

Read More –

कुछ Payment System तो साल भर यानि 365 दिन 24*7 घंटे उपलब्ध रहते हैं, जबकि कुछ सीमित समय ( Limit Time) के लिए। इसलिए ये आपको अच्छी तरह से जान लेना चाहिए कि कौन सा Payment System 24*7 घंटे उपलब्ध (Available) है। क्योंकि सीमित समय वाले पेमेंट सिस्टम से Money Transfer तभी Successfully होगा जब उसकी Service Available होगी।

NEFT, RTGS & IMPS में कितना Charge लगता है ?

हमें Fund Transfer करने के लिए एक निर्धारित शुल्क देना पड़ता है। Reserve Bank of India (RBI) के नियमों के मुताबिक, Fund Transfer के लिए कितना शुल्क लिया जाएगा ये इसका निर्णय बैंक खुद लेगा। बैंक शुल्क Transfer Amount, Transfer Speed आदि पर निर्भर करता है।

  • NEFT के जरिए Money Transfer के लिए Minimum ₹1 & Maximum ₹25 Pay करना होता है। इसके अतिरिक्त GST भी देना पड़ता है।
  • RTGS के जरिए Money Transfer के लिए Minimum ₹30 & Maximum ₹55 Pay करना होता है। इसके अतिरिक्त GST भी देना पड़ता है।
  • IMPS के जरिए Money Transfer के लिए Minimum ₹2.5 & Maximum ₹25 Pay करना होता है। इसके अतिरिक्त GST भी देना पड़ता है।

अगर गलती से किसी दूसरे के अकाउंट में पैसा ट्रांसफर हो गया है तो क्या करें?

आपका पैसा कैसे वापस मिलेगा ?

अगर गलती से किसी दूसरे के Account में पैसा ट्रांसफर होने पर दो तरीकों से पैसा वापस हासिल किया जा सकता है।

  1. पहला तरीका – Direct Bank Complaints। किसी दूसरे व्यक्ति के अकाउंट में पैसा ट्रांसफर होने पर अपने बैंक को Immediate Complaint करें। आपकी सूचना के आधार पर ही बैंक उस व्‍यक्ति के बैंक को सूचना देगा, जिसके खाते में गलती से पैसा ट्रांसफर हो गया है। बैंक उस व्‍यक्ति से गलत ट्रांसफर हुए पैसा को वापस करने की Request करेगा।
  2. दूसरा तरीका – कानूनी यानी उसके खिलाफ़ FIR करना । जिस व्यक्ति के खाते में गलती से पैसा ट्रांसफर हुआ है, अगर वो लौटाने से इनकार करता है तो उसके खिलाफ कोर्ट में केस दर्ज कराने का अधिकार भी है। हालांकि पैसा वापस न करने की स्थिति में यह अधिकार RBI के नियमों के उल्लंघन के संदर्भ में होता है।

निष्कर्ष :-

आज के इस Article के में हमने आपको बताया कि –  Digital Payment से हमें क्या फायदा है ? , भारत में Online Fund Transfer किन – किन माध्यमों से कर सकते हैं ?, NEFT, RTGS और IMPS को क्यों शुरू किया गया ?, Fund Transfer Limit & Available Service, NEFT, RTGS & IMPS में कितना Charge लगता है ? तथा इसके साथ अनेक सारी जानकारियां साझा करेंगे जो आपके लिए लाभदायक होने वाले हैं।

तो ये जानकारी आपको कैसी लगी आप हमें  Comments में बता सकते हैं तथा पसंद आई तो अपने दोस्तों को भी  Share कर सकते हैं। साथ ही साथ हमारी हर Post की जानकारी सबसे पहले पाने के लिए  Subscribe Box में अपना  Email Id  डाल कर  Subscribe कर सकते हैं। 

 
 
हम आपके राय की प्रतीक्षा करेंगे।
 
Tech Ranchi को आप FacebookInstagramTwitter पर follow कर सकते हैं। आप हमारे  YouTube Channel पर भी नई-नई जानकारी पाने के लिए Subscribe करें।
https://feeds.feedburner.com/techranchi

मैं सुदर्शन Tech Ranchi, Website और YouTube Channel का Founder, SEO, Content Writer, Editor & Video Creator हूँ। मैं 2019 से इस क्षेत्र में काम कर रहा हूँ।

Leave a comment

error: Content is protected !!